"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"


BREAKING NEWS:-हमारी वेबसाइट पर विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें 9719069776

Wednesday, 14 September 2022

हल्द्वानी में युवाओं ने भरी हुंकार, न्याय न मिला तो गोल्ज्यू दरबार मे डालेंगे घात।

No comments :


 हल्द्वानी।

 बीते कई हफ्तों से युवाओं की जनआक्रोश रैली के संदर्भ मे कुमाऊं पूरे कुमाऊं भर में चर्चा थी वह आज सफलता के साथ शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गई।
चर्चा का दबाव कुछ इस कदर था कि पुलिस प्रशासन को भारी जत्था सड़कों पर तैनात करना पड़ा लगभग तीन से चार जिलों के एसडीएम कोतवाल सीओ सहित 4 से 5 जिलों का पुलिस प्रशासन केवल हल्द्वानी महा जनआक्रोश रैली को शांतिपूर्ण बनाए रखने के लिए हल्द्वानी में तैनात कर दिया गया ।
 इधर युवाओं ने तैयारी जारी रखी और प्रशासनिक अमले के बिल्कुल चुस्त होने के बावजूद वह कई जगह युवाओं की बसों को कथित तौर पर रोक देने के बावजूद हजारों की संख्या में युवा हल्द्वानी पहुंचे, तथा भ्रष्टाचार के विरोध में जनआक्रोश युवाओं में देखने को मिला । वही कार्यक्रम शुरू होने से खत्म होने तक प्रशासन इस बात पर अड़ा रहा था की रैली निकाली जाएगी पर युवाओं के आगे अंततः प्रशासन ने झुकते हुए अपनी देखरेख में पंत पार्क एमबीपीजी के सामने से बुधपार्क तक आकर वहां पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपने दिया।
 जिसमें युवाओं ने 13 सूत्रीय मांगे रखी थी इन मांगों को मुख्यमंत्री से मुलाकात में पूर्ण करने के लिए मुख्यमंत्री को 1 सप्ताह का समय दिया है, युवाओं का कहना था कि अगर 1 सप्ताह में यह मांगे नहीं मानी जाती तो पूरे प्रदेश भर में इससे भी व्यापक आंदोलन की रणनीति बनाई जाएगी ।
इस आंदोलन में  विभिन्न राजनीतिक दलों के लोगों ने अपना समर्थन उत्तराखंड युवा एकता मंच के बैनर तले दिया व  राजनीतिक दल अपने अपने झंडे व पार्टी की विचारधारा को किनारे कर केवल और केवल युवाओं के समर्थन में हल्द्वानी में दिखे ।
समर्थन देने वालों में मुख्य रूप से हल्द्वानी विधायक सुमित हृदयेश,उप नेता सदन भुवन कापड़ी, नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य,आम आदमी पार्टी यूथ विंग प्रदेश अध्यक्ष नितिन जोशी, पूर्व ब्लाक प्रमुख संजय नेगी पूर्व विधायक संजीव आर्य ,युवा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुमित्तर भुल्लर,उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के अध्यक्ष गिरीश डालाकोटी, सुराज सेवा दल के अध्यक्ष रमेश जोशी ,पछास अध्यक्ष महेश जोशी, भाकपा कई पूर्व व वर्तमान हल्द्वानी एमबीपीजी के छात्र संघ के पदाधिकारी आदि थे वहीं विभिन्न संगठनों ने अपना अपना समर्थन दिया और भारी संख्या में युवा जुटे।
 इस दौरान मंच पर मौजूद पूर्व व वर्तमान विधायक व विपक्ष के लोगों से भी युवाओं ने कड़े सवाल पूछे युवाओं की मांग थी कि चाहे पक्ष हो या विपक्ष जो भी भ्रष्टाचारी है उनको तत्काल पद मुक्त किया जाए तथा उनकी संपत्ति की जांच कर संपत्ति को कुर्क किया जाए।

 वहीं उत्तराखंड युवा एकता मंच के सदस्य पूर्व विधायक प्रत्याशी गगन कांबोज मंच पर विपक्ष पर भी जमकर गरजे और बोले कि पक्ष हो या विपक्ष जो भी भ्रष्टाचारी है उन पर कार्यवाही की जाए हो सकता है कुछ भ्रष्टाचारी मंच पर भी मौजूद हो उन पर भी कार्रवाई की मांग हम युवा उठाते हैं। साथ ही उत्तराखंड युवा एकता मंच के सदस्य पीयूष जोशी ने  सरकार व विपक्ष दोनों को निशाने पर लेते हुए पूछा कि जब विधानसभा अध्यक्ष को बैक डोर से नियुक्ति करने का अधिकार है ,तो विधानसभा अध्यक्ष को संविधान के अनुरूप विधायिका की गरिमा को हानि पहुंचाने वालों को पद मुक्त करने का अधिकार है तो तत्काल सभी भ्रष्टाचारी नेताओ को पदमुक्त किया जाए चाहे वह लोग पक्ष व विपक्ष के बड़े पदों पर आसीन क्यो न हो उन्हें पार्टी से वह विधायिका से तत्काल बर्खास्त करें ।
वही छात्र नेत्री मीमांशा आर्य  ने मांग की कि जितने भी भ्रष्टाचारी नेता है उन सभी की संपत्तियों की जांच हो वह आय से अधिक संपत्ति पाए जाने वाले सभी नेताओं व बेमानी संपत्ति रखने वाले सभी नेताओं की संपत्ति तत्काल जब्त कर ।हम युवाओं के पक्ष में खर्च की जाए।

 इस दौरान मुख्य रूप में शैलेंद्र सिंह दानू ,तेजेश्वर घुघुतियाल,गगन कांबोज, गौरव जसवाल बजेला,राहुल पंत,लाल सिंह पवार,कार्तिक उपाध्याय, बबलू जाय,हर्षित जोशी,पीयूष जोशी आदि दर्जनों लोग मौजूद रहे।


आगे का यह रहेगा कार्यक्रम :
श्राद्ध पक्ष खत्म होते ही चितई गोलू व घोड़ाखाल गोलू देवता के मंदिर में सभी प्रदेश के युवा घात डालने जाएंगे 
-राहुल पंत
सदस्य उत्तराखण्ड युवा एकता मंच।


प्रदेश के युवा  जागरूक हो चुके हैं मुख्यमंत्री यह ना समझे कि आंदोलन ही खत्म हो जाएगा ।यह आंदोलन जारी रहेगा जब तक की सीबीआई जांच नही हो जाती व हमारी 13 सूत्री मांग को मुख्यमंत्री पूर्ण नहीं कर देते। आंदोलन की आगामी रणनीति तय की जा रही है हमने मुख्यमंत्री जी को सारी मांगने मांगने के लिए 1 सप्ताह का टाइम दिया है,उसके बाद आंदोलन की सारी जिम्मेदारी मुख्यमंत्री की रहेगी।

-कार्तिक उपाध्याय
सदस्य
 उत्तराखंड युवा एकता मंच।

No comments :

Post a Comment