"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"

BREAKING NEWS:-देवभूमि का मर्म आपका हार्दिक स्वागत करता है

Tuesday, 6 June 2017

अब नया दर्द भी देने लगे है टुकटुक

1 comment :
नगर में चल रहे बेलगाम ई रिक्शे इन दिनों आतंक का पर्याय बनते जा रहे हैं दुर्घटनाओ को हर पल निमंत्रित करने के अलावा अब ये झपटमारी भी कर ले रहे है मंगलवार को बनकटिया के प्रहलाद मेलाघाट रोड से टुकटुक में कुछ सामान लेकर कंजाबाग चौराहे तक गए लेकिन वहाँ अपना सामान उतारने के दौरान उनका बैग टुकटुक में ही छूट गया जैसे ही उन्हें इस बात का अहसास हुआ उन्होंने टुकटुक चालक को रुकने का इशारा किया लेकिन चालक ने टुकटुक दौड़ा दी.बाद में उन्होंने बैग में 15 हजार नकदी होने की सूचना पुलिस को दी जिस पर पुलिस ने सभी रूटों पर तलाशी अभियान चलाया लेकिन बैग ले जाने वाला टुकटुक शाम तक नजर नहीं आया .

1 comment :

  1. टुक-टुक चालको को सडक पर चलने का कोई भी नियम कानून नही पता रहता है।ये सडक पर भी सही भी नही चलते,
    यह सवारी के चक्कर मे बिना देखे ही मोड देते है।जिसके कारण बडी दुर्घटना हो जाती है।

    ReplyDelete