"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"

BREAKING NEWS:-देवभूमि का मर्म आपका हार्दिक स्वागत करता है

Friday, 16 June 2017

बाल श्रमिक को मुक्त कराया

No comments :

-दिनाॅक 15.06.17 को थाना कुण्डा काशीपुर से आपरेशन स्माइल टीम द्वारा चाइल्ड लाइन 1098 ऊधम सिह नगर को लावारिस हालत में एक नेपाल मूल के बच्चे (बालक) क े मिलने की सूचना दी गई उक्त सूचना के क्रम में कार्यवाही करतें हुए सर्वप्रथम चाइल्डलाइन टीम की समन्वयक गरिमा और सदस्य यश गगवार को थाना कुण्डा काशीपुर स्माइल आपरेशन टीम के पास भजा गया जहाॅ बच्चें द्वारा अपना नाम जीवन उम, 9 वर्ष ( नेपाल ) का रहने वाला हॅ बताया गया। कुण्डा थाने में चाइल्ड लाइन टीम द्वारा बच्चे की काउसलिग के बाद कुंडा पुलिस के द्वारा चाइल्ड लाइन के सुपुर्द किया गया। चाइल्ड लाइन टीम बच्चें को लेकर मैजिक वाहन से काशीपुर आ रहे थे तभी रास्ते में कार से आये एक परिवार द्वारा वाहन को रोक कर कहा गया कि यह बच्चा हमारे घर रहता है आप कहा लेकर जा रहे है उनको देखकर बच्चा डर गया व रोने लगा। इसी दौरान कुण्डा थाने के सब इस्पेक्टर नेतराम अचानक वहा पहुच गये जिसके बाद वह सभी लोगो को थाने ले गये थाने में पुलिस की पूछताछ में उपराक्त परिवार द्वारा बताया गया कि एक नेपाली परिवार में
रे घर पर कार्य करता है वही इस बच्चे को नेपाल से लेकर आये थे जो मेंरे घर पर रहकर कार्य कर रहा था और आज अचानक लापता हो गया। पुलिस द्वारा नेपाली परिवार को बुलाकर पूछताछ की गई तो उनके द्वारा सही जानकारी न दके र भ्रमित करने का प्रयास किया गया। जानकारी दी गई कि बच्चें को उनके पिता नेपाल से लेकर आये थे व बच्चे के पिता का नाम श्री राम सिंह ,माता गीता, पता ग्राम -चन्नावारी है और माता पिता की मृत्य हो चुकी है जब कि बच्चे द्वारा बताया गया कि माता पिता जीवित है और वह नेपाल में मजदूरी करते है। टीम द्वारा इसकी समस्त जानकारी चाइल्ड लाइन परियोजना निद ेशक जया मिश्रा जी को पुनः दी गई सुश्री मिश्रा द्वारा तत्काल नेपाल में कार्य रत् माइती न ेपाल संस्था के द्वारा बच्च ें के परिजनो व घर की जानकारी तसदीक करायी गई जो की गलत पाया गया। ऐसा प्रतीत होता है कि बच्चे को नेपाल से बाल श्रम के लिए लाया गया हैं। जिस हेतु चाइल्ड लाइन 1098 ऊधम सिंह नगर द्वारा विषय की गम्भीरता को ध्यान म ें रखते हुए जिलाधिकारी से जाॅच की माॅग की है। आज भी बच्चों को न ेपाल से बालश्रम के लिए लाया जा रहा है बालश्रम अपराध है अतः बच्चें को लाने वाल े व बालश्रम कराने वाल े परिवार पर उपरोक्त मामले म ें जाॅचकर कार्य वाही की जानी चाहिय े। चाइल्ड लाइन परियोजना निदेशक जया मिश्रा द्वारा बताया गया कि संस्था 12 जून से जनपद म े ं बालश्रम के खिलाफ अभियान भी चला रही है। बच्चो ं का संरक्षण सर्वोपरि है जिसम ें जनसहभागिता व संवेदनशीलता अति आवश्यक है। आज दिनांक 16 जून 2017 को चाइल्ड लाइन की परियोजना निदेशक जया मिश्रा जी के द्वारा चाइल्ड लाइन आॅफिस म ें मिलकर बच्च े की काउ ंसलि ंग कर बच्च े से उसके परिजनो व घर का सही पता जानने की कोशिश की गई। बच्चे के द्वारा नेपाली भाषा बोलने की वजह से बच्चे की बात समझ न आन े के कारण परियोजना निद ेशक जया मिश्रा जी के द्वारा माइती नेपाल की समन्वयक माहेश्वरी जी से बात करायी गइ्र्र जिसके बाद बच्च े के द्वारा बताय े गये पते व परिजनों की पुनः तसदीक कराई गई जिसम े बच्चे क े माता पिता की जानकारी मिल गई वही कुंडा थाना काशीपुर स्माईल टीम के द्वारा भी बच्चे के माता पिता की सही जुटा ली गई। इस मामल े की समस्त जानकारी नेपाल पुलिस को भी दे दी गई है। बच्चे के पिता का नाम ओमराज है और वह ग्राम सुरखेत थाना बांगीसिमल नपे ाल का रहने वाला है। बताया गया। कल 17 जून 2017 का े बच्चे के माता पिता बच्चें को लेन े चाइल्ड लाइन आॅॅिफस रुद्रपुर पहॅुचेग ें। बच्च े के सम्बन्ध मे यदि किसी को काई भी जानकारी हो तो वह आपरेशन स्माइल टीम थाना कुण्डा ,काशीपुर तथा चाइल्ड लाइन 1098 को द े सकत े है। साकारात्मक सहयोग के लिए चाइल्ड लाइन 1098 ऊधम सिंह नगर आपका आभार व्यक्त करता है।

No comments :

Post a Comment