"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"

BREAKING NEWS:-देवभूमि का मर्म आपका हार्दिक स्वागत करता है

Tuesday, 30 May 2017

वकीलों ने भी ए पी ओ साहब को सुना ही दी थप्पड़ की गूँज

No comments :
खटीमा में सहायक अभियोजन अधिकारी व अधिवक्ता के बीच शुरू हुई रार अब खतरनाक मोड़ लेती जा रही है एक सप्ताह पूर्व कुर्सी के गुरुर में मस्त ए पी ओ सरेआम कोर्ट परिसर में थप्पड़ मारने के बाद आज गुस्साए वकीलों के हत्थे चढ़ गए तो वकीलों ने भी हाथ साफ़ करने में कोई कसर नहीं छोड़ी.बमुश्किल वकीलों के चंगुल से छूटे एपीओ ने अधिक्ताओं के खिलाफ मारपीट व सरकारी कार्य में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर सौंपी है। वहीं अधिवक्ताओं ने भी सहायक अभियोजन अधिकारी पर उनके ऊपर गाड़ी चढ़ाने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है। एक सप्ताह पहले कोर्ट परिसर में अधिवक्ता लाला राम व सहायक अभियोजन अधिकारी के बीच विवाद हो गया था। जिस पर अधिवक्ता लाला राम ने सहायक अभियोजन अधिकारी पर मारपीट व बदसलूकी करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी थी। वहीं एपीओ गुलाब सिंह ने भी अधिवक्ता के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी थी। जिस पर पुलिस ने दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी। वहीं डीएम ने मामले की जांच को लेकर दो सदस्यीय कमेटी बनाकर जांच के आदेश दिये थे। जिस पर संयुक्त निदेशक अभियोजन ने पीड़ित अधिवक्ता व एपीओ के बयान दर्ज किये। इधर अधिवक्ता के साथ मारपीट व बदसलूकी के मामले में सहायक अभियोजन अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई न होने आक्रोशित अधिवक्ता ने सोमवार को कार्य बहिष्कार जारी रखा। अधिवक्ताओं ने सहायक अभियोजन अधिकारी के आधिकारिक रूप से छुट्टी पर होने के बावजूद
न्यायालय परिसर कार्यालय में आने की सूचना पर वह भड़के गये और वह एक दर्जन से अधिक अधिवक्ता उनके कार्यालय पहुंच गये। आरोप है कि जहां उन्होंने एपीओ गुलाब सिंह के साथ जमकर मारपीट कर सरकारी दस्तावेजों को फाड़ कर तितर-बितर कर दिया। वह किसी तरह कार्यालय से निकलकर अपनी कार पहंुचे तो अधिवक्ताओं ने वहां पहुंचकर दूबारा उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। कोर्ट परिसर में मारपीट की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहंुच गई और एपीओ को अधिवक्ताओं के चुंगल से छुड़ा लिया। पुलिस ने एपीओ का मेडिकल कराया है। एपीओ ने अधिवक्ताओं के खिलाफ नामजद तहरीर सौंपी है। कोर्ट परिसर में हुई घटना से अफरा-तफरी मच गई। इधर अधिवक्ता लाला राम व कुमारी शहाना बेगम ने पुलिस को तहरीर सौंपकर आरोप लगाया है कि सहायक अभियोजन अधिकारी ने उनके ऊपर अपनी कार चढ़ाकर जान से मारने का प्रयास किया। इधर पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर जांच शुरू कर दी है।

No comments :

Post a Comment