"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"

BREAKING NEWS:-देवभूमि का मर्म आपका हार्दिक स्वागत करता है

Sunday, 21 May 2017

विरोध को धत्ता बताते हुए प्रशासन ने शुरू कराया अटका हुआ एन एच निर्माण

No comments :
खटीमा। सितारगंज से टनकपुर तक बन रही टू लेन सड़क के निर्माण में पहेनिया से कुटरी तक मुआवजे को लेकर अडंगा लगा रहे ग्रामीणों के विरोध को धत्ता बताते हुए प्रस्तावित बाईपास का निर्माण कार्य रविवार को प्रशासन ने शुरू करा दिया। पहेनिया से कुटरी तक बनने वाले बाईपास में काबिज काश्तकारों में मुआवजे आपसी सहमति न बन पाने से बाईपास निर्माण कार्य पिछले दो सालों से अधर में लटका हुआ था। इस मार्ग में आने वाली अधिकांश भूमि जनजाति के लोगों की थी जो उन्होंने साधारण स्टाम्प पेपरों में गैर जनजति के लोगों को बेच रखी है चूँकि कानूनन भूमि पर हक़ जनजाति के लोगों का ही है इसलिए मुआवजे की राशी उन्ही के खातों में आएगी,जबकि गैर जनजाति के लोगों जिनमे अधिकांश पूर्व सैनिक है का मानना है कि चूँकि वे जमीन की कीमत अदा करने के बाद ही उस पर काबिज है लिहाजा मुआवजे पर नैतिक और व्यावहारिक रूप से उनका हक़ है भूमि के मुआवजे को लेकर स्थानीय प्रशासन, एनएच अधिकारी व जनप्रतिनिधियों के बीच कई बार बैठक आयोजित किये जाने के बाद भी कोई हल नहीं निकला। एसडीएम विजयनाथ शुक्ल ने एक माह पूर्व काबिज काश्तकारों के साथ बैठक कर मामले को आपसी सहमति से निपटाने के निर्देश दिये थे तथा आपसी सहमति न बनने पर निर्माण कार्य शुरू करने की बात कही थी। काश्तकारों को दी गई समयावधि बीत जाने पर एसडीएम ने कार्यदायी संस्था को रविवार से पहेनिया से बाईपास निर्माण शुरू करने के निर्देश दिये थे। रविवार को एसडीएम शुक्ल व एनएच के जनसम्पर्क अधिकारी धर्मवीर सिंह ने लम्बे समय अधर में लटके बाईपास निर्माण का कार्य शुरू करा दिया। एसडीएम ने कहा कि पहेनिया से कुटरी तक प्रस्तावित बाईपास में मुआवजे का पेंच फंसने की वजह से निर्माण कार्य नहीं हो पाया था। उन्होंने कहा कि क
ुछ काश्तकारों को मुआवजे की राशि दे गई है और काबिज काश्तकारों को मुआवजा नहीं मिल पाया है। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि मुआवजे का जो भी विवाद है वह निपटता रहेगा। इस पर बाईपास निर्माण कार्य में कोई बाधा नहीं आने दी जायेगी। आपसी सहमति से मुआवजे का निस्तारण नहीं हुआ तो भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई अमल में लाई जा सकती है तथा बाईपास निर्माण का कार्य किसी भी दशा में रूकने नहीं दिया जायेगा। बरसात से पूर्व बाईपास का अधिकांश कार्य पूरा कर लिया जायेगा। मुआवजे के उचित समाधान न होने के कारण बाईपास का विरोध कर रहे पूर्व सैनिक संगठन के अध्यक्ष कुंवर सिंह खनका को विरोध करने जाते वक्त पुलिस ने रोक लिया ,

No comments :

Post a Comment