"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"

BREAKING NEWS:-देवभूमि का मर्म आपका हार्दिक स्वागत करता है

Friday, 5 May 2017

करप्शन के बाद अब कानून में उलझा एन एच निर्माण

No comments :
जिलाधिकारी डाॅ0 नीरज खैरवाल ने कलकट्रेट सभागार में जनपद में हो रहे राश्ट्रीय राजमार्ग;एनएचद्ध.74 एवं राश्ट्रीय राजमार्ग.87 के चौडीकरण कार्याें की समीक्षा कर एनएचएआईएं एनएच की कार्यदायी संस्थाओं एवं सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को आवष्यक दिशा
निर्देष दिये। कार्यदायी संस्था गल्फार के अधिकारी द्वारा बताया कि एनएच.74 की जद में आ रही भूमि किच्छा के अन्तर्गत ग्राम सिरौली कला की खेत न0.110 के भू.स्वामी द्वारा चार गुना मुआवजा पाये जाने हेतु हाईकोर्ट में मुकदमा दर्ज किया गया और हाई कोर्ट ने भूमि अधिग्रहण पर स्टे लगा दिया है जिस वजह से चौडीकरण कार्य बाधित हैं। इस पर जिलाधिकारी ने विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी को निर्देष दिये कि वह अपना काउन्टर लगाये और हाई कोर्ट से अपील करें कि राश्ट्रीय राजमार्ग चौडीकरण जनहित से जुडा कार्य हैए इसलिए एनएच की जद में आने वाली भूमियों व अन्य सम्पत्तियों के मामले में स्टे न लगाया जाय। उन्होने एसडीएम पंकज उपाध्याय को निर्देश दिये कि एनएच की जद में आने वाले निर्मित भवनों का ध्वस्तीकरण शीघ्र कर दिया जाय साथ ही एनएच की जद में आने वाले वीआईपी स्टेचू के विस्थापन हेतु एक समिति का गठन कर स्टेचु विस्थापन हेतु निर्णय लिया जाय। उन्होने जल संस्थान के अधिकारियों को वाटर पाईप लाईन शिफ्टिंग कार्य तेजी से करने को कहा ताकि एनएच चौड़ीकरण शीघ्र पूरा हो सके। जिलाधिकारी ने एनएचएआई के अधिकारियों को निर्देष दिये कि एनएच.87 की जद में आ रही सरकारी भूमि का नक्षा बनाकर यह आंकलन कर लिया जाय कि किस विभाग की कितनी भूमि एनएच.87 की जद में आ रही है ताकि सम्बधित विभागों को इसकी सूचना उपलब्ध करायी जा सके। जिलाधिकारी ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देषित किया है कि उनके द्वारा एनएच.87 की जद में आने वाले वृक्षों का कटान कार्य ही शीघ्र आरम्भ कर दिया जाय ताकि जनपद में एनएच.87 चौडीकरण कार्य शीघ्र ही शुरू किया जा सके। बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रताप सिंह विषेश भूमि अध्याप्ति अधिकारी एनएस नबिायाल एसडीएम पंकज उपाध्याय एनएचएआई से हेमन्त जोशी व अरुणदेव शर्मा गल्फार कम्पनी से पीके चैधरी सद्भाव कम्पनी से पवन धीमान एई लोनिवि विनोद कुमार सहित सम्बधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

No comments :

Post a Comment