"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"

BREAKING NEWS:-देवभूमि का मर्म आपका हार्दिक स्वागत करता है

Thursday, 27 April 2017

आई पी एल मैचों में लग रहा जमकर सट्टा

No comments :
खटीमा-(देवभूमि का मर्म एक्सक्लूसिव) देशभर में चल रहे आईपीएल मैचों के साथ ही क्षेत्र में इन मैचों पर जमकर सट्टा लगाया जा रहा है, हर गली, मोहल्ले व नुक्कड़ पर चल रहे इस सट्टे का क्षेत्र इतना व्यापक है कि पुलिस यदि इस पर लगाम लगाना चाहे भी तो संभव नहीं है क्योंकि पहला तो यह सट्टा संगठित तौर पर न होकर व्यक्तिगत तौर पर चल रहा है। मैच शुरू होने के साथ ही प्रति ओवर या प्रति बाॅल के हिसाब से लोग आपस में ही सट्टा लगा लेते हैं। मैच के परिणाम पर तो बाजी लगती ही है, खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर भी जमकर सट्टा लगाया जाता है नाम न छापने की शर्त पर कुछ सटोरियों ने बताया कि वे आपस में ही खिलाड़ियों पर सट्टा लगा लेते हैं। उदाहरण के लिए पंजाब की टीम का मुम्बई इंण्डियन से मैच चल रहा हो तो दो लोग आपस में खिलाड़ी बांट लेते हैं एक ने अमला को चुना तो दूसरा उसी टीम के मैक्सवेल पर 100 रूपये प्रति रन का दाव लगाता है। यदि अमला ने 60 रन बना दिये और मैक्सवेल 10 रन पर आउट हो गये तो मैक्सवेल वाला अम्ला वाले सटोरिये को 60 रनों में से 10 रन घटाकर 50 रनों के 100 रूपये के हिसाब से 5000 रूपये देगा। इस तरह से मुम्बई के खिलाड़ियों पर भी उसी मैच में सट्टा लगेगा। खिलाड़ियों के साथ ही पहले खेलने वाली टीम कुल कितना स्कोर करेगी और मैच का अंतिम परिणाम क्या होगा इस पर भी सट्टा लगाया जा रहा है। कुछ उत्साही सट्टेबाज अपने दिल्ली मुम्बई में बुकीज से सम्पर्क होने और मैचों के सटीक परिणाम पहले से ही पता होने के दावे करते भी दिखे लेकिन उनके पास इस बात की कोई पुख्ता प्रमाण नहीं दिखे वहीं उल्लेखनीय बात यह है कि जुए, कैसीनो या अन्य सट्टेबाजी की तरह आईपीएल मैचों में सट्टेबाजों को बहुत फायदा या नुकसान नहीं हो रहा है क्योंकि एक दिन सट्टे में हारने वाला दूसरे दिन के मैच में जीतकर भरपाई कर लेता है। फिलहाल यह सट्टेबाजी इतने निजी तौर पर चल रही है कि पुलिस को कानों कान खबर भी नहीं हो सकती ।

No comments :

Post a Comment