देवभूमि का मर्म

"खटीमा (उत्तराखंड) से प्रकाशित साप्ताहिक समाचार पत्र"

BREAKING NEWS:-देवभूमि का मर्म आपका हार्दिक स्वागत करता है

Tuesday, 24 February 2015

धर्म का रंग

No comments :
खटीमा चौराहे पर बन रहे चबूतरे पर लग रही टाइल्स के रंग को लेकर भड़के हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ता ।नगरपालिका पर धर्म विशेष की राजनीती करने का लगाया आरोप

Sunday, 22 February 2015

२० फरबरी का E-PAPER

No comments :
पढने के लिए क्लिक करे

पढने के लिए क्लिक करे

पढने के लिए क्लिक करे




एरियर भुगतान की मांग को लेकर धरने में बैठी सेवानिवृत्त महिला

No comments :
खटीमा। एरियर भुगतान की मांग को लेकर धरने में बैठी सेवानिवृत्त महिला सफाई कर्मचारी का धरना बीमार पुत्र के साथ नगरपालिका के समक्ष तीसरे दिन भी जारी रहा नगरपालिका से सेवानिवृत्त महिला सफाई कर्मचारी जावित्रि देवी ने बढ़ी पेंशन का लगभग साढ़े तीन लाख रूपये का एरियर भुगतान करने की मांग को लेकर पालिका कार्यालय गेट के समक्ष बीमार पुत्र के साथ तीसरे दिन भी धरना जारी रखा और कहा कि एरियर भुगतान न होने तक आंदोलन जारी रहेगा। इधर सेवानिवृत्त महिला सफाई कर्मी के समर्थन में पालिका सफाई कर्मचारियों ने दूसरे दिन समर्थन में पालिका कार्यालय में प्रदर्शन कर महिला का एरियर व पेंशन का भुगतान शीघ्र कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि आंदोलनरत सेवानिवृत्त महिला को शीघ्र वेतन व एरियर भुगतान नही किया गया तो सफाई कर्मचारी भी आंदोलन करने को बाध्य होगें। इस दौरान बुद्धसेन, सुभाष कुमार, विजय कुमार, राजकुमार, अनिल कुमार, श्यामवीर, सोमवती, ग्रेस देवी, मुन्नी देवी, ज्ञानवती, मूल चन्द, भगवान दास सरिता देवी, श्याम, मनोज कुमार, विनोद, शंकर आदि मौजूद थे।

सम्मलेन को लेकर मंथन

No comments :
खटीमा। राज्य आंदोलनकारी कल्याण मंच के कार्यकर्ता नैनीताल में आयोजित सम्मेलन को सफल बनाने के लिए कूच करेगा। मंच के जिलाध्यक्ष शिवशंकर भाटिया ने बताया कि चिन्हित आंदोलनकारियों व वंचित आंदोलनकारियों की मांगों को लेकर आंदोलनकारियों का 22 फरवरी को होने जा रहे सम्मेलन में विकासखण्ड से दर्जनों आंदोलनकारी सम्मेलन में भाग लेगे। उन्होंने क्षेत्र के आंदोलनकारियों से सम्मेलन को सफल बनानेे के लिए अधिक से अधिक संख्या में सम्मेलन में पंहुचने की अपील की।

पड़ोसी ने एक युवक का सिर फोडा

No comments :
खटीमा। पेड़ उखाड़ने को लेकर पड़ोसी ने एक युवक सिर फोड़ दिया। जिसे परिजनों ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया। झनकट निवासी लोकेश ने अपनी भूमि पर एक पेड़ लगाया था। जिस पर उसके पड़ोसी ने लगाया गया पेड़ उखाड़ कर फेंक दिया। लोकेश ने पड़ोसी से पेड़ उखाड़ने का कारण पुछने पर उसने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी तो सिर पर डंडा मार दिया। जिससे लोकेश लहुलुहान होकर गिर पड़ा। परिजनों ने उसे सीएचसी में भर्ती कराया और घायल लोकेश की मां ने पुलिस को दो लोगों के खिलाफ पुलिस में तहरीर सौंपकर कार्रवाई की मांग की है।

11 निर्धन कन्याओं का विवाह

No comments :
खटीमा। जय श्री महाकाल महाराज शिव शक्ति कांवर सेवा समिति ने महाशिवरात्री पर्व पर शिव मंदिर में विशाल जनसमूह के बीच 11 निर्धन कन्याओं का विवाह कराया। निर्धन कन्याओं के विवाह का कार्यक्रम में क्षेत्र के जनप्र्रतिनिधि व गणमान्य लोगों सहित अनेक लोगों ने नवदंपत्तियों को आर्शीवाद दिया। जय श्री महाकाल महाराज शिव शक्ति कांवर सेवा समिति के तत्वाधान में महाशिवरात्री पर्व पर रामलीला मैदान में आयोजित सामूहिक 11 निर्धन कन्याओं के विवाह समारोह के मुख्य अतिथि स्थानीय विधायक पुष्कर सिंह धामी व नानकमत्ता गुरूद्वारा साहिब के तरसेम सिंह बाबा ने भोले बाबा के समक्ष पुष्प अर्पित कर नवदपत्ति को आर्शीवाद दिया। इस अवसर पर विधायक पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि महाशिवरात्री की पावन बेला पर एक साथ 11 दम्पत्तियों का विवाह करना बहुत ही पुण्य एवं शुभ कार्य है। इस प्रकार के कार्यों से जहां समाज में एक लोकरूचि उत्पन्न होती है वहीं गरीब व असहाय लोगों की सेवा भी होती है। उन्होंने जय श्री महाकाल महाराज शिव शक्ति कांवर सेवा समिति का आभार प्रकट करते हुए उन्हें सहयोग करने का आश्वासन दिया। तरसेम बाबा ने कहा कि संस्था द्वारा कराये जा रहे निर्धन कन्याओं के विवाह एक सराहनीय कदम है। आज समाज में अगर प्रत्येक समाजसेवी, राजनैतिक अथवा अन्य संस्थाए गरीब लोगों के उत्थान हेतु पहल करें तो निश्चित रूप से हमारे देश से गरीबी हट जायेगी और एक स्वच्छ समाज का निर्माण होगा। इससे पूर्व नगर में भगवान शिव की बारात के साथ 11 दुल्हों की भी बारात निकाली गई जो नगर में विशेष आर्कषण का केंद्र रहा। समिति के संरक्षक व नगर पालिका वार्ड सभासद गौरी शंकर अग्रवाल ने बताया कि जय श्री महाकाल महाराज शिव शक्ति कांवर सेवा समिति के तत्वाधान से विगत चार वर्षों से निर्धन कन्याओं के विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है । इस वर्ष भी समिति द्वारा 11 निर्धन कन्याओं का विवाह कराने का संकल्प लिया गया था। अग्रवाल ने बताया कि विवाह समारोह के पश्चात विशाल भण्डारे का आयोजन किया गया। अग्रवाल ने बताया कि निर्धन कन्या विवाह समारोह में मोहन जोशी फिल्म एवं अंकित इन्टरटेमंेट के सौजन्य से हेलीकाप्टर कैमरे व के्रन द्वारा विडियोग्राफी को दर्शकों ने खूब सराहा।
अग्रवाल ने बताया कि संस्था द्वारा हमेशा गरीब एवं असहाय लोगों की सहायतार्थ हेतु विशेष कार्यक्रम आयोजित किये जाते रहे है। उन्होंने बताया कि गत सप्ताह भी खटीमा स्थित मुक्तिधाम में बर्षों से पड़ी अस्थियां जिन्हें आज तक कोई लेने नहीं आया उन्हें टनकपुर स्थित शारदा घाट में विर्सजन किया गया।
इस दौरान फाइबर्स फैक्ट्री के एमडी डा. आर. सी रस्तोगी,  राजेश छाबड़ा, रंजीत सिंह,  रबिश अग्रवाल, विजय कुमार गुप्ता, संजय अग्रवाल, सुरेश विश्वकर्मा, विनोद पचैली, आशु जोशी, विकास अग्रवाल, अनिल बत्रा, विपिन गुप्ता, पीडी गुप्ता, सैकड़ो लोग मौजूूद थे।




नए अंक की काव्य रचना

No comments :
शुभकामनायें
जनता के दर्द को पहचानते है आप'
हर खबर को सटीकता से सामने लाते है आप'
हर हफ्ते पाठको को रहती है आप की दरकार'
तभी तो देवभुमि का मर्म कहलाते है आप"
सीमान्त की हर हलचल पर रहती है आपकी नजर'
विकाश के मुद्दे भी उठाती है आपकी खबर'
साहित्य व धर्म को भी देते हैं आप उचित स्थान'
खबरों के है आप सारथी और पत्रकारिता की शान"
एक साल में ही आप पाठको की बन गए हो पसंद'
क्योकि बेख़ौप व सटीक पत्रकारिता है आपका धर्म'
संचार के नए माध्यमो को अपनाते है आप,
फेसबुक के जरिये भी खबरों से रूबरू कराते हैं आप,
आप है आम जनता के सच्चे प्रवक्ता'
तभी तो आम जनता की आवाज बन जाते है आप"
सफलतम वर्ष गांठ पर है आपको बधाई'
जनता की कसौटी पर यूँ ही खरा उतरो,अब आप दिनेश भाई"

रचनाकार-- दीपक फुलेरा
देवभूमि का मर्म साप्ताहिक समाचार पत्र के सफलतम एक वर्ष पूर्ण करने पर मेरी
और से पुरे देव भूमि का मर्म परिवार को समर्पित काव्य रचना।

Friday, 20 February 2015

आप के आने से क्या बदला

No comments :
अब 'आप' के आने से क्या बदलेगा..??
अजय नारायण शर्मा
भाजपा नेता डा. सुब्रह्मण्यन स्वामी ने आम आदमी पार्टी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें कही है । अरविंद केजरीवाल की तुलना नक्सलियों से करते हुए उन्होंने भविष्यवाणी की है कि यदि ‘आप’ को दिल्ली प्रदेश की सत्ता मिल भी गयी तो वह एक साल के भीतर सरकार से अलग हो जाएगी। स्वामी के अनुसार ‘केजरीवाल के सारे सहयोगियों का संबंध नक्सलियों से रहा है। वे सरकार नहीं चला सकते। आप देखेंगे कि वे समाप्त हो जाएंगे।’
याद करें अरविंद केजरीवाल ने मात्र 49 दिनों के बाद ही मुख्यमंत्री पद से 15 फरवरी 2014 को इस्तीफा दे दिया था। उस समय भी कुछ राजनीतिक पंडितों ने भविष्यवाणी की थी कि ‘आप’ अब समाप्त हो जाएगी। पर हुआ उसके विपरीत। दिल्ली में ‘आप’ का वोट शेयर बढ़ता ही चला गया। ओपियन पोल और एग्जिट पोल के नतीजों पर भरोसा करें तो ‘आप’ दिल्ली में एक बार फिर सरकार बनाएगी। आखिर दिल्ली की अधिकतर जनता ‘आप’ को इतना पसंद क्यों कर रही है? क्यों भाजपा जैसी सुसंगठित पार्टी और नरेंद्र मोदी जैसे लोकप्रिय नेता को भी दरकिनार कर अधिकतर जनता  ‘आप’ को गले लगा रही है ? जानकारों के अनुसार  इसका एकमात्र कारण यह  है कि ‘आप’ ने भ्रष्टाचार के प्रति लगातार शून्य सहनशीलता दिखाई है। यदि यही काम मोदी सरकार ने  आठ महीनों के कार्यकाल में किया होता तो ‘आप’ की चमक गायब हो गई होती।
पर सरकार के भीतर जाकर संभवतः मोदी जी और बाहर से डा. स्वामी को लगता है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ चैतरफा युद्ध छेड़ देना किसी भी सरकार के लिए संभव नहीं है। दूसरी ओर ‘आप’ इस तर्क से सहमत नहीं दिखती। इस पृष्ठभूमि में डा.स्वामी की यह सोच उनकी खुद की कसौटियों पर  तार्किक हो सकती है। उन्हें लगता है कि नक्सली मानसिकता वाली ‘आप’ को यदि सरकार चलाने का मौका मिलेगा तो उनकी सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई जीत ही नहीं सकेगी । और, जब जीत नहीं सकेगी तोे वे भाग खड़े होंगे। इन्हीं परिस्थितियों में केजरीवाल ने मुख्य मंत्री पद छोड़ा था। जबकि पद छोड़ने की उनकी कोई मजबूरी नहीं थी। इस देश में अधिकतर जनता उस नेता या दल को अधिक पसंद करती है जो अपने सिद्धांतों के लिए गददी छोड़ने के लिए तैयार रहता है। अरविंद ने जब पद छोड़ा था तो उस समय तो उनके समर्थकों के एक हिस्से ने उन पर गुस्सा दिखाया था। पर जब अरविंद ने स्थिति स्पष्ट की तो वही जनता संतुष्ट हो गई। इतना ही नहीं ‘आप’ का जन समर्थन बढ़ गया। दरअसल अधिकतर जनता ने ‘आप’ की कथित रणनीतिक त्रुटियों को नजरअंदाज किया और उसकी अच्छी मंशा पर भरोसा किया। केजरीवाल जमात का उभार जन लोकपाल आंदोलन के गर्भ से हुआ था।जब वह आदोलन चल रहा था, उस समय ‘आप’ बनी भी नहीं थी। क्योंकि उसके नेताओं का उद्देश्य राजनीति में जाना नहीं था। वे लोग अन्ना हजारे के नेतृत्व में गैर राजनीतिक आंदोलन चला कर जन लोकपाल विधेयक पास करवाना चाहते थे।
पर जनलोकपाल विधेयक के कड़े मसविदे को देख कर देश की मौजूदा राजनीतिक जमात ,खासकर मनमोहन सरकार के कान खड़े हो गए थे। यदि उस विधेयक को उसी स्वरूप में पास कर दिया गया होता तो इस देश के अनेक नेता जेल में होते और चालू राजनीति को अपना कायाकल्प कर देना पड़ता।पर इसके लिए आज भला कौन तैयार है ? इसीलिए अन्ना हजारे की सलाह से मन मोहन सरकार ने जिस स्वरूप में लोकपाल विधेयक बाद में पास किया ,वह ‘आप’ के अनुसार नख-दंत विहीन है।उनकी गिरफ्त तो कोई चूहा भी नहीं लाया जा सकेगा  जबकि भ्रष्टाचार के बड़े -बड़े भेडि़यों और घडि़यालों को उनकी सही जगह बताने की जरूरत आज महसूस करती है। जिस लोकपाल आंदोलन के कारण जनता ने 2013 में ‘आप’ को सत्ता दिलाई थी,यदि वही विधेयक पास नहीं कर पाई तो वह गद्दी पर क्यों बैठी रहती ? वादा करके भूल जाने वाले दलों की भीड़ में ‘आप’ अलग तरह की पार्टी दिखाई पड़ रही है। आप के जनसमर्थन के बढ़ने का एक बड़ा कारण यही है। यदि ‘आप’ को इस बार भी सत्ता मिलेगी तो वह जन लोकपाल या यूं कहिए कि जन लोकायुक्त विधेयक को भूल नहीं सकती। पर विधेयक का जो मसविदा ‘आप’ के पास है, उसे विधेयक के रुप में पेश करने से पहले पूर्वानुमति की जरुरत पड़ेगी। ऐसे कड़े कानून बनाने की पूर्वानुमति यह व्यवस्था देगी ? उम्मीद तो नहीं है। डा.स्वामी को तो यह साफ लगता है कि वह अनुमति नहीं मिलेगी।फिर यदि बनी तो क्या ‘आप’ की सरकार सिर्फ कुर्सी गरम करने के लिए कुर्सी पर बनी रहेगी  ? डा.स्वामी को लगता है कि ऐसा नहीं होगा,इसलिए तुनक कर आप सरकार फिर गददी छोड़ देगी। राजनीतिक प्रेक्षकों के अनुसार यदि ऐसा हुआ तो उसका पूरे देश पर  असर पड़ेगा । कई राजनीतिक विश्लेषक यह मानते हैं कि  पूरा देश वर्षों से भीषण सरकारी और गैर सरकारी भ्रष्टाचार से पीडि़त है। 1966-67 में डा.राम मनोहर लोहिया के नेतृत्व में देश में कुछ गैर कांग्रेसी दलों का जो साझा आंदोलन और चुनावी अभियान चला  था,वह मुख्यतः भ्रष्टाचार के खिलाफ ही था। 1974-77 के जेपी आंदोलन का सबसे बड़ा मुद्दा भ्रष्टाचार था। बोफर्स तथा अन्य घोटाले के खिलाफ वी.पी.सिंह के नेतृत्व में 1987-89 में चले आंदोलन का मुख्य मुददा तो सिर्फ भ्रष्टाचार था।पर इन आंदोलनों के बाद निजाम बदलने के बावजूद देश के हालात नहीं बदले। इन में से किसी सरकार ने यह कह कर गद्दी नहीं छोड़ी थी कि चूंकि वे अपने आंदोलन के मुददे को सरकार में आकर लागू नहीं कर पा रहे हैं,इसलिए गद्दी छोड़ रहे हैं। यह काम सिर्फ ‘आप’  ने किया। यदि इस बार गद्दी मिलने पर देश की भ्रष्टाचार समर्थक शक्तियां एक बार केजरीवाल को गददी छोड़ने को विवश कर देंगीं तो उसका राजनीतिक परिणाम  देश भर में प्रकट हो सकता है।‘आप’ देर -सवेर राष्ट्रीय पार्टी बन कर उभर सकती है।क्योंकि उसकी अच्छी मंशा के कायल देश भर के लोग  हो सकते हैं। याद रहे कि आप के 2013-14 के 49 दिनों के शासनकाल में दिल्ली में भ्रष्टाचार काफी हद तक थम गया था।ऐसा प्रभाव  अब तक मोदी सरकार नहीं दिखा पाई है। नतीजे बताते हैं कि इस बार भी ‘आप’ को सभी जातियों,वर्गो और समुदायों में से  उन लोगों के वोट मिले हैं जो भ्रष्टाचार को इस देश की सबसे बड़ी समस्या मानते हैं। ‘आप’ की अगली सफलता या विफलता दोनों ही स्थितियों में देश भर में एक खास तरह के राजनीतिक ध्रुवीकरण की संभावना जाहिर की जा रही है।वह धु्रवीकरण भ्रष्टाचार समर्थक और भ्रष्टाचार विरोधी शक्तियों के बीच हो सकता है।यदि ऐसा हुआ तो इसके साथ यह भी अपने आप हो जाएगा कि जाति,समुदाय और संप्रदाय के आधार पर समाज को बांट कर वोट बटोरने वाले नेताओं को उनकी नानी याद आ जाएगी।

Sunday, 15 February 2015

Post ti

No comments :


Sunday, 8 February 2015

देव का कार्टून

No comments :

बेटिया बचाओं, बेटिया पढ़ाओ

No comments :
बेटिया बचाओं, बेटिया पढ़ाओ
बेटी बचाओ

देश की सरकार भी अब तो यह अभियान चला रही है,
बेटिया बचाओ बेटिया पढ़ाओ की जनता से गुहार लगा रही है,
बेटिया है अनमोल बेटियों का समझो मोल,
इस बात का महत्व आमजन को समझा रही है"
नारी शक्ति के महत्व को देश के पीएम भी मान चुके,
तभी तो देश के विकाश में नारी के योगदान को बड़ा रहे है"
गर बेटिया ना होंगी जरा समझो देश के लोगो,
बहूँ कहा से लाओगे ये बात समझा रहे है,
पुरातन काल से ही जिन बेटियो ने बडाया हो देश का मान,
नव भारत निर्माण में भी बेटीओ की जरुरत दर्शा रहे है,
घर की चौखट से देश की सरहद तक अब तो बेटी की गूंज है,
बेटिया बचेगी जब तभी मानव सभ्यता महफूज है"
गर बचाओगे बेटीयो को व शिक्षा का दोगे ज्ञान,
तब महकेंगी बेटिया व देश का बढ़ाएगी स्वाभिमान"
बेटिया होंगी तब सुरक्षित तब देश भी चेहकेगा,
बेटिया बचाओ,बेटिया पढ़ाओ का सन्देश जब घर घर में महकेगा,घर घर में महकेगा"
रचनाकार-- दीपक फुलेरा (खटीमा)
सन्देस -- (सेव द गर्ल,एजुकेट द गर्ल)

खटीमा महाविद्यालय में दो गुटों में भिडंत

No comments :
खटीमा महाविद्यालय में एन एस यू आई और ए बी वी पी से जुड़े छात्रों के दो गुटों में भिडंत से मची अफरा तफरी

6 Feb 2015 का E-Paper

No comments :
पढने के लिए क्लिक करे

No comments :
समाचार लिखे जाने तक टीम इंडिया ने 5 ओवर में एक विकेट के ऩुकसान पर 20 रन बना लिए हैं। क्रीज पर शिखर धवन (23) और आजिंक्य रहाणे (0) खेल रहे हैं।

भारत ने अपना दूसरा विकेट विराट कोहली (18) के रुप में खोया। मिशेल स्टॉर्क ने कोहली को आउट कर अपनी टीम को दूसरी सफलता दिलाई। इससे पहले लंबे समय बाद ‌मैदान पर लौटने वाले रोहित शर्मा अपनी वापसी शानदार नहीं कर सके और महज 8 रन बनाकर आउट हो गए।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 2 शतकों के दम पर 371 रनों का विशाल स्कोर खड़ा करने में सफल रही, लेकिन वह पूरे 50 ओवर नहीं खेल सकी और 48.2 ओवर में आउट हो गई। मेजबान टीम की ओर से ओपनर डेविड वॉर्नर ने 104 और ग्लेन मैक्सवेल ने 122 रनों की शतकीय पारियां खेली।

गूगल महाराज की आरती

No comments :
ॐ जय गूगल हरे !! स्वामी जय गूगल हरे !! प्रोग्रामर्स के संकट, नेट यूजर्स के संकट !! एक क्लिक मे दूर करे !! ॐ जय गूगल हरे !! जी-मेल की सुविधा !! सब जमकर मेल करे, स्वामी मिल कर मेल करे !! सोशल नेटवर्किंग ऑरकुट, लेखको के लिए ब्लॉगर !! सब जन चैट करे !! ॐ जय गूगल हरे !! तुम देवा सर्च इंजिन !! तुम इन्टरनेट राजा, स्वामी इन्टरनेट राजा !! तुम होमेवोर्क कराओ, प्रोजेक्ट पूरे कराओ !! कस्ट हरो वर्क का !! ॐ जय गूगल हरे !! तुम नोलेज के सागर !! तुम पालनकर्ता, स्वामी तुम पालनकर्ता !! मैं तो सर्चर खल्कामी, तुम हो सर्वर स्वामी !! सब मेटर सर्च करता !! ॐ जय गूगल हरे !! वेब सर्च, इमेज सर्च !! न्यूज़ भी सर्च करे, स्वामी ब्लॉग भी सर्च करे !! अपने सर्च दिखाओ, सारी री-सर्च दिखाओ !! साईट पे खड़ा खड़ा में तेरे !! ॐ जय गूगल हरे !! गूगल क्रोम ब्राऊजर !! नेट स्पीड को तेज करे, स्वमी नेट स्पीड दोढाये !! गूगल अर्थ घर बैठे, गूगल मैप घर बैठे !! सारी दुनिया घुमवाए !! ॐ जय गूगल हरे !! गूगल देव जी की आरती !! जो कोई भी गावे, जो नेट यूजर गावे !! कहत "मारवाड़ी" कविवर , कहत "अमन" नेट यूजर !! सरे वाइरस सिस्टम से पल में दूर भगे !! ॐ जय गूगल हरे !! - अमन अग्रवाल "मारवाड़ी"

संपादकीय - 06 फरबरी

No comments :
व्वव्व

चरस के साथ एक गिरफ्तार

No comments :
गिरफ्तार अपराधी के साथ पुलिस

खटीमा पुलिस ने चकरपुर में चैकिंग के दौरान स्कूटी की डिग्गी में 1 किलो चरस रखकर ले जा रहे उन्चोली गोठ टनकपुर निवासी लाल सिंह को किया गिरफ्तार